सरकार ने नही सुना तो ग्रामीणों ने गया में चंदा कर बनवाया पुल

822
0
SHARE

जनप्रतिनिधियों व सरकार ने नही सुनी तो ग्रामीणों ने चंदा कर बनवाया पुल, गया के वजीरगंज में जकोहरी नदी पर बभनी ग्रामीणों ने खुद के पैसे से बनाया पुल,कहा बरसात के दिनों में आवागमन हो जाता था बाधित।

गया जिले के वजीरगंज प्रखण्ड के अमेठी पंचायत के बभनी,बुधौल,झब्बेगंज सहित कई गॉवो के ग्रामीणों ने खुद के चंदे से जकोहरी नदी पर ढलाई का पुल बनवाया है। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले कई वर्षों से बरसात के दिनों में नदी में पानी आ जाने के कारण दर्जनो गॉवो का आवागमन ठप्प हो जाता है। लोग स्थानीय मुखिया व जनप्रतिनिधियों का चक्कर लगा लगा थक चुके थे।पूर्व पैक्स अध्यक्ष व कई गॉवो के ग्रामीणों ने इस समस्या को लेकर बैठक जिसमे यह निर्णय लिया गया कि सभी लोग चंदा देंगे उसी से पुल का निर्माण कार्य कराया जाय।उसके बाद सभी ग्रामीणों ने चंदा देना शुरू किया और आज 81 फुट लम्बा और 8 फुट चौड़ा ढलाई का पुल करवाया है जिसमे करीब 3लाख 50 हजार रुपये खर्च आया है।इतना कार्य के बाद बरसात का दिन आ गया और जकोहरी नदी में धीरे धीरे पानी के आने का सिलसिला भी शुरू हो चुका है।

ग्रामीणों ने बताया की पुल के बन जाने से काफी राहत मिली है नदी में करीब 7 से 8 महीना पानी रहता है यैसे में बाजार,स्कूल आदि जाने के लिए 6km पैदल चलना पड़ता था तब पक्की सड़क पर आते है अब वह समस्या दूर हो गयी है वंही स्कूल को शिक्षिका ने बताई की बरसात के मौसम में पानी के कारण प्रतिदिन स्कूल भी नही जा पाते थे।

वंही पंचायत के मुखिया ने बताया की ग्रामीणों की समस्या जब आयी तो अधिकारियों से बात की गई थी लेकिन मनरेगा या पंचायत स्तर पर यैसी कोई योजना नही होने के कारण लोगो ने खुद चंदा कर पुल को बनवाया है।

ग्रामीणों ने कहा कि चुनाव चाहे कोई भी स्थानीय पंचायत चुनाव हो या विधानसभा चुनाव सभी लोगो ने वादा किया था लेकिन जब समस्या आन पड़ी तो अब खुद के पैसे से पुल निर्माण करवाना पड़ा है।

LEAVE A REPLY