जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकी हमले के शिकार लोगों के परिजनों को मिले उचित मुआवजा : राजू दानवीर

73
0
SHARE

जन अधिकार पार्टी के युवा नेता राजू दानवीर ने आज जम्‍मू – कश्‍मीर में चार बिहारी मेहनतकश लोगों की हत्या के मामले में केंद्र और बिहार सरकार पर जोरदार हमला बोला है। उन्‍होंने कहा कि बिहार के लोगों पर पहले भी दूसरे प्रदेश में हमले हुए हैं, लेकिन हमारी सरकार ने कभी उन पर भी कोई ठोस कदम नहीं उठाया। आखिर मजबूरी क्या है सरकार को ये बताना चाहिए। दानवीर ने बिहार सरकार से आग्रह किया कि वे जम्‍मू – कश्‍मीर में रह रहे बिहारियों की सुरक्षा के लिए वहां की सरकार से बात करे, ताकि बिहार के लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित हो। साथ ही उन्‍होंने आतंकी हमले में मारे गए लोगों के परिजनों को उचित मुआवजा देने की मांग की।

इससे पहले दानवीर ने कहा कि भाजपा नेताओं ने धारा 370 हटने के बाद कहा था कि इससे जम्मू कश्मीर में बिहार के लोगों को रोजगार मिलेगा। लेकिन मिलने लगी मौत। सुशील मोदी जब सत्ता में रहे एक रोजगार किसी को नहीं दिया। और सपने दिखाए जम्मू कश्मीर के। जहां मोदी सरकार की गलत नीतियों की वजह से बेकसूर बिहारी आतंकवादी के गोलियां से मर गए। रोजगार तो नहीं मिला, मौत मिल रही है। ऐसे नेताओं को थोड़ी भी शर्म नहीं हैं ये लोग सिर्फ राजनीति करते हैं ।

उन्‍होंने कहा कि भाजपा और उनके नेता देश में अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए हर बार भारत – पाकिस्‍तान की बात करने लगते हैं। वे कहते थे कि जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटा कर ये लोग खूब कहा करते थे कि बिहारियों को वहाँ नौकरी मिलेगी। नोटबन्दी कर कहा था कि आतंकवाद की कमर तोड़ दी है। लेकिन क्या हुआ? बिहारियों के खिलाफ आज वहाँ आतंकी हिंसा हो रही है और आतंकवाद आज भी सर उठा रहा है। ऐसे में अपनी कारस्तानियों को छुपाने के लिए भाजपा और उनके लोगों के पास कोई मुद्दा बचा नहीं। कह रहे हैं क्रिकेट मैच नहीं खेला जाना चाहिए।

उन्‍होंने कहा कि पाकिस्तान जाकर बिरयानी खाने में कोई गुरेज नहीं है इनको और इनके आका को, लेकिन जब देश में किसान, बेरोजगारी और महंगाई के साथ आज जम्मू और कश्मीर में बिहारी की सुरक्षा जैसे अहम मुद्दे से भटकाने के लिए भारत पाकिस्तान शुरू कर देते हैं। किसान को इनके मंत्री के बेटे गाड़ी से कुचल देते हैं। उन्हें सड़कों पर महीनों से रहने को मजबूर कर दिया है। पेट्रोल डीजल की महंगाई की वजह से सब कुछ महंगा हो गया है। लोग बेरोजगार हो रहे हैं।

LEAVE A REPLY