बिहार में आपदा के वक्त गायब रहने वाले तेजस्वी यादव बिहार सरकार के मंत्रियों को आईना दिखाने में लगे

588
0
SHARE

हाल के साल में बिहार में जब भी आपदा आई है बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव गायब ही रहे,चाहे बात करें मुजफ्फरपुर के चमकी बुखार की या बात करें पटना में बाढ़ की,  तेजस्वी यादव आपदा की घड़ी बिहार की जनता के साथ खड़े नजर नहीं आए, वहीं अब कोरोना की महामारी के दौरान तेजस्वी यादव डेढ़ महीने के बाद दिल्ली से पटना पहुंचे जिसके बाद वह अपने घर में कोरेंटिन में है मगर तेजस्वी यादव सरकार और सरकार के मंत्रियों पर लगातार हमले कर रहे हैं, वही आज तेजस्वी यादव ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर लोगों से मीटिंग की जिसकी एक तस्वीर वो अपने फेसबुक पेज पर डालते हुए लिखते हैं. ‘

दो महीने से अधिक हो गए है लेकिन आपदा के समय बिहार सरकार की किसी भी बैठक में आपदा प्रबंधन मंत्री नहीं दिखे। शायद बिहार में विरले ही लोग जानते है कि आपदा मंत्री कौन है लेकिन विभाग के चंद विशेष बाबुओं को “अतिविशिष्ट योग्यता” के कारण सब जानते है। देश में सबसे अधिक श्रमिक संकट बिहार में है, लाखों श्रमवीर परेशान है, 40 से अधिक मज़दूर भूख और दुर्घटना में मारे जा चुके है लेकिन बिहार के श्रममंत्री ड़र के मारे बैठकों से ग़ायब है। अगर उन्हें बैठकों में जाने से कोरोना संक्रमण का ड़र है तो ऐसे मंत्री को तुरंत इस्तीफ़ा देना चाहिए।

विपदा प्रबंधन संबंधित विभागों जैसे श्रम और स्वास्थ्य विभाग के मंत्री बैठकों से ग़ायब है लेकिन ग़ैर-संबंधित विभागों के मंत्री कथित समीक्षा बैठकों में हर समय मौजूद रहते है। नेता प्रतिपक्ष के नाते हम पूछना चाहते है कि संवैधानिक पद पर बैठे मंत्री विपदा के समय ऐसी महत्वपूर्ण बैठकों से क्यों ग़ायब रहते है? क्या भाजपा कोटे के ऐसे सभी मंत्री नकारा है इसलिए मुख्यमंत्री उन्हें पूछते ही नहीं और अधिकारियों को सीधे निर्देश देते है? या फिर क्या उन मंत्रियों के मुख्यमंत्री आवास में जाने से वहाँ संक्रमण फैलने का डर है?

ऐसी क्या रहस्यमयी बात है जो जनता से छिपायी जा रही है?

लेकिन कहते है कि अगर आप किसी पर एक उंगली उठाते हैं तो आपकी तीन उंगली आपके खुद पर उठती है और यही हाल तेजस्वी यादव का इन दिनों नजर आ रहा है.

LEAVE A REPLY