बिहार को जल्द रेलवे डेडिकेटेड फ्रेंट कॉरिडोर देने जा रही है, बिहार में विकास की रफ्तार होगी तेज।

425
0
SHARE

बिहार को बहुत जल्द रेलवे का तोहफा मिलने वाला है क्योंकि रेलवे के दो कॉरिडोर जो ईस्टर्न कॉरिडोर और वेस्टर्न कॉरिडोर निर्माण हो रहा है उसमें ईस्टर्न कॉरिडोर बिहार से गुजरता है और अब ईस्टर्न कोरिडोर में एक एक डिडिकेटेड कॉरिडोर का निर्माण होने जा रहा है जो सोननगर से गोमो तक होगा, क्योंकि डिडिकेटेड कॉरिडोर का निर्माण होने से बाकी जो पैसेंजर ट्रेन है उन्हें कोई परेशानी नही होगी चलने में, क्योंकि डिडिकेटेड कॉरिडोर के निर्माण के बाद हर रोज 100 ट्रेन अप और डाउन लाईन में चल सकती है, आज पटना में डिडिकेटेड फ्रेंट कॉरिडोर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड ने पटना में इन्वेस्टर मिट का आयोजन किया जिसमें इस डिडिकेटेड कॉरिडोर का निर्माण के लिए 17 कंपनियों ने भाग लिया.

डिडिकेटेड फ्रेंट कॉरिडोर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के एमडी ने बताया कि आज जो हमने मीट की है वो है सोननगर से लेकर गोमो तक कॉरिडोर के लिए जो 263 किलोमीटर का सेक्शन है और गोमो जो है बहुत ही रिच एरिया में है वहाँ बहुत सारी कोल की माइन्स है जो लुधियाना से लेकर सोननगर तक जो सेक्शन बना रहे है उसका तो काम चल रहा है लेकिन जो सोननगर से गोमो तक प्लान किया है उसे पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (ppp) मोड में करेंगे, उसमे जो कंपनी कंस्ट्रक्शन करेगी और जब कंस्ट्रक्शन का काम पूरा हो जाएगा तब उसको एन ओ टी पेमेंट होगा, यानी 5 साल में वो कंट्रक्सन करेंगे और हमलोग 15 साल में उनको एन ओ टी पेमेंट करेंगे, और इसके बनने से 100 ट्रेन अप और डाउन दोनों लाइन पर रोज चलेगी, बिहार के लिए बहुत इंपोर्टेंट प्रोजेक्ट होगा क्योंकि बिहार में बहुत डेवलोपमेन्ट की गुंजाइश है क्योंकि यहाँ पर सप्लाई चेन शुरू हो सकती है कनेक्टिविटी दिल्ली से आसान हों जायेगी.

LEAVE A REPLY