पटना में मुफ्त ऑक्सीजन देकर लोगो के लिए संजीवनी बने ये दंपति

1015
0
SHARE
पटना में पति पत्नी मिलकर चलाते है ऑक्सीजन बैंक, कोरोना काल मे जरूरतमंदों को मुफ्त में देते है ऑक्सीजन पहुचाते है, बिहार की राजधानी पटना में जितनी तेजी से कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है ऐसे सरकारी तंत्र जिसके लिए फेल हो जाते है उसके लिए संजीवनी बने हुए है पटना के गौरव और उनकी पत्नी अरुणा.
गौरव पटना के श्रीकृष्णा नगर में रहते है और पत्नी पत्नी दोनो प्राइवेट जॉब करते है, गौरव को कुछ दिन पहले सांस लेने में दिक्कत हुई जिसके बाद गौरव की पत्नी उन्हें लेकर पीएमसीएच गई जहाँ उन्हें ऑक्सीजन लगाया गया, जिसके बाद उन्हें एहसास हुआ कि ऑक्सीजन मरीजो के लिए कितना जरूरी है, अस्पताल से लौटने के बाद गौरव को पता चला कि वो कोरोना पोसेटिव है जिसके बाद गौरव होम कोरेन्टीन हो गए, उनकी पत्नी फिर उनके लिए 10 हजार का आक्सीज सिलेंडर खरीदा लेकिन उसकी जरूरत उन्हें नही परी, लेकिन उस दीन से दोनों पति पत्नी ने ठान लिया कुछ भी हमे उनलोगों की मदद करनी है जिन्हें ऑक्सीजन नही मिल रहा है जो सिस्टम से लड़कर हार जाते है उन्हें एक फोन पर ऑक्सीजन दिया जाए, गौरव और उनकी पत्नी ने अपनी सेविंग से पहले 25 ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदा 22 जुलाई से इस काम की  शुरुवात और अभी तक 30 सिलेंडर खरीद चुके है जिसमे 24 सिलेंडर अभी लोग इस्तेमाल कर रहे है, 7 सिलेंडर आंशिक रूप से इस्तेमाल हो रहा है, हम किसी से एक रुपया नही लेते है, 22 जुलाई से 29 जुलाई तक हमने 27 लोगो को ऑक्सीजन दिया है, गौरव को फेसबुक और फोन पर लोग मैसेज कर अपना लोकेशन बताते है और गौरव ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर पहुँच जाते है, गौरव और उनकी पत्नी प्राइवेट जॉब करते है दोनों अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक बड़ी लकीर खीचने में लगे है और सरकार से इनकी बस यही गुजारिस ही कि जब हमलोग इतना कुछ कर सकते है तो सरकार बहुत कुछ कर सकती है.

LEAVE A REPLY