हेलमेट मैन ने कूड़ा उठाने वाली महिला की सोच को धन्यवाद करते हुए 5 लाख का हेलमेट दिया

1144
0
SHARE

हेलमेट मैन ने कूड़ा उठाने वाली महिला की सोच को धन्यवाद करते हुए 5 लाख का हेलमेट दिया. ग्रेटर नोएडा AWHO सोसाइटी में मंजू नाम की महिला पढ़े-लिखे नहीं होने की वजह से हाउसकीपिंग का काम करती है पिछले कई साल से. अपनी बच्ची निधि को शिक्षा देने के प्रति कोई कसर नहीं छोड़ी और निधि दसवीं में प्रथम स्थान हासिल किया. निधि की 28 जून को शादी है. मंजू ने अपनी बेटी की पुस्तक को कूड़े में ना देकर हेलमेट मैन को दिया. ताकि किसी और के काम आ सके किसी जरूरतमंद को शिक्षा मिले. भारत में ऐसे बहुत पढ़े लिखे लोग हैं जो सिस्टम को गलत कहते रहते हैं लेकिन किसी जरूरतमंद को अपनी पुस्तक पड़ोस के बच्चों को भी देना नहीं सोचते हैं. आज इसी कारण से 73 साल आजादी के बाद भी देश 100% साक्षर नहीं हो पाया.हेलमेट मैन मंजू की सोच को सैल्यूट करते हुए एक हेलमेट के साथ 5 लाख का बीमा दिया. हेलमेट मैन पिछले कई सालों से लोगों से पुरानी किताब के बदले हेलमेट दिया करते हैं. ताकि भारत 100% साक्षर बने और सड़क दुर्घटना में लोगों की जान बच सके.

विश्व में भारत पहले स्थान पर है जहां सड़क दुर्घटना में सबसे ज्यादा मौत होती है. हेलमेट मैन का सपना है भारत को सड़क दुर्घटना मुक्त बनाना जो पहले आस्थान से नीचे के स्थान पर लाने के लिए एक मिशन बनाकर कार्य कर रहे हैं.

देश के अंदर प्रतिदिन हजारों दुर्घटना होती है जिसमें सैकड़ों लोगों की जान चली जाती है और यह आंकड़ा एक वर्ष में डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो जाती है. हेलमेट मैन भारत में ऐसे बहुत परिवार से मिले जो सड़क दुर्घटना में अपनों को खो चुके थे.
लेकिन उस परिवार को मदद करने के लिए कोई आगे नहीं आता और सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना नहीं है उन्हें मदद देने के लिए कुछ तो ऐसे भी परिवार है सड़क पर भीख मांग कर अपनी जीविका चला रहे हैं.
इन सब परिस्थितियों को देखते हुए भारत को मजबूत बनाने के लिए हेलमेट मैन अब अपनी एक हेलमेट के साथ 5 लाख की बीमा स्टार हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी की बीमा योजना शुरू की है जो बिल्कुल निशुल्क है. हेलमेट लेते वक्त अपना आधार नंबर के साथ कुछ डिटेल देनी है और उन सभी लोगों को इसका लाभ मिलेगा ताकि भविष्य में दुर्घटना होने वाले परिवार को भीख मांगने की जरूरत ना पड़े.

जो अगले मंथ से सरकार से भी सिफारिश कर रहे हैं चालान की जगह पर एक हेलमेट दिया जाए और उसके साथ 5 लाख की बीमा भी निशुल्क मिले. अगले महीने से प्रतिदिन हेलमेट मैन का अभियान सड़क पर चलेगा कोई भी अपनी पुरानी पुस्तक देकर या फिर ₹1000 देकर इस दोनों योजना का लाभ ले सकता है.

LEAVE A REPLY