पटना डीएम ने कोषांग के अधिकारियों के साथ की बैठक, दिया आवश्यक निर्देश

774
0
SHARE

जिलाधिकारी श्री कुमार रवि ने हिंदी भवन सभागार में कोषांग के अधिकारियों के साथसमीक्षात्मक बैठक की तथा सभी संबंधित अधिकारियों को सच्ची निष्ठा एवं समर्पित भाव से मानवता की सेवा एवं भलाई के लिए सक्रिय एवं तत्पर होकर कार्य करने का निर्देश दिया। उन्होंने सब्जी मंडी मैं भीड़ नियंत्रित करने तथा सोशल डिस्टेंस का अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु दंडाधिकारी पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया। गली में लाकडाउन के प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित कराने हेतु मोटरसाइकिल गश्ती तेज करने का निर्देश दिया। साथ ही बोरिंग रोड अशोक राजपथ जैसे महत्वपूर्ण स्थलों पर लगातार भ्रमणशील रहने एवं रोस्टर के अनुसार मजिस्ट्रेट की तैनाती कर उपस्थिति सुनिश्चित कराने को कहा। सब्जी मंडी में एनसीसी की भी प्रतिनियुक्ति की गई है तथा मंडी में उन्हें सोशल डिस्टेंस मेंटेन कराने में अपेक्षित सहयोग प्रदान करने का निर्देश दिया गया है। मंडी में सोशल डिस्टेंस मेंटेन कराने हेतु दुकानों की दूरी बढ़ाने पार्किंग स्थल को दूर रखने प्रवेश और निकासी द्वार बनाने आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया । साथ ही ठेला, ई-रिक्शा को सब्जी बेचने में भी लगाने को कहा गया।
*खाद्यान्न का उठाव /वितरण का कार्य में तेजी लाने का दिया निर्देश।*
आपूर्ति कार्य की समीक्षा करते हुए बैठक में अवगत कराया गया की अप्रैल माह के खाद्यान्न का उठाव पूरा कर लिया गया है। वितरण का कार्य अतिशीघ्र शुरू होगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत खाद्यान्न का उठाव बुधवार से शुरू हो जाएगा। जिलाधिकारी ने समुचित प्लान तैयार करने तथा प्रतिदिन प्रतिवेदित करने का निर्देश दिया।1400 अप्रवासी मजदूरों का डाटा सूचीबद्ध किया गया है जिनके पास राशन कार्ड उपलब्ध है।
*कंट्रोल रूम से किया जा रहा है कंटैक्ट , पूछा जा रहा हाल-चाल*
नियंत्रण कक्ष से लगातार कॉल आने एवं जाने की प्रक्रिया सतत रूप से जारी है तथा आवश्यक परामर्श एवं फीडबैक प्राप्त किया जा रहा है। बैठक में पाया गया की वाहन पास के लिए 87 कॉल आए आपदा राहत हेतु 241 कॉल कोरोना संदिग्धता से संबंधित 320 कॉल, दैनिक उपयोग के खाद्य सामग्री से संबंधित 221 कॉल हॉस्पिटल में इलाज हेतु 157 कॉल सहित कई अन्य पहलुओं से संबंधित कॉल प्राप्त हुए हैं जिन्हें आवश्यक परामर्श दिए गए हैं एवं उनसे आवश्यक फीडबैक प्राप्त किया गया है। इसके अतिरिक्त कई अन्य प्रकार के कॉल प्राप्त हो रहे हैं तथा लोगों से फीडबैक भी प्राप्त किए जा रहे हैं।
*खाद्य आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु जांच अभियान*
दैनिक उपयोग के खाद्य सामग्री की सुचारू एवं सुदृढ़ व्यवस्था सुनिश्चित कराने हेतु जिला प्रशासन द्वारा लगातार छापेमारी एवं दुकानों की जांच सतत रूप से जारी है। इस क्रम में 18 आटा मिल की जांच की गई जिसमें मिलों में गेहूं का स्टॉक 4863 टन तथा आटा का स्टॉक 1315 टन पाया गया। 39 खुदरा किराना दुकानों की जांच की गई 10 गैस एजेंसियों की जांच की गई 43 जन वितरण प्रणाली दुकानों की जांच की गई है। इसके अतिरिक्त पर खुला आटा ब्रांडेड आटा खाद्य तेल चीनी नमक दाल चावल आलू प्याज हरी सब्जी आदि की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु जांच की गई।
*आपदा राहत केंद्रों पर भोजन एवं आवासन की स्थिति*
आपदा राहत केंद्रों पर आज 369 व्यक्ति आवासित हुए तथा 10995 व्यक्ति ने भोजन ग्रहण किया । पटना उच्च विद्यालय गर्दानीबाग 94 आवासीय 1136 भोजन ग्रहण किए कॉलेज ऑफ कॉमर्स में 49 आवासीय 681 भोजन ग्रहण किए मिलर स्कूल में 27 आवासीय एवं 1000 ने भोजन ग्रहण किए पंचशील आवासीय मध्य विद्यालय कुम्हरार में 995 व्यक्ति ने भोजन ग्रहण किया है राजकीय उच्च विद्यालय मंगल तालाब पटना सिटी में 450 ने भोजन ग्रहण किया है मध्य विद्यालय छोटी पहाड़ी में 700 ने भोजन ग्रहण किया राजकीय कन्या उच्च विद्यालय महावीर घाट में 400 ने भोजन ग्रहण किया राजकीय आर्य कन्या उच्च विद्यालय मंसूरगंज में 400 ने भोजन ग्रहण किया आईटीआई दीघा में 450 ने भोजन ग्रहण किया महंत हनुमान शरण महाविद्यालय में 450 ने भोजन ग्रहण किया है रघुनाथ बालिका उच्च विद्यालय कंकड़बाग में 200 ने भोजन ग्रहण किया है अंबेडकर कॉलोनी संदलपुर में 300 पेटी ने भोजन ग्रहण किया है गायघाट रेन बसेरा में 78 व्यक्ति आवासीय 498 ने भोजन ग्रहण किया मैकडॉनल्ड्स राजेंद्र नगर में 20 आवासीय 374 ने भोजन ग्रहण किया है मलाही पकड़ी कंकड़बाग में 32 आवासीय 475 ने भोजन ग्रहण किया है एसके पूरी पार्क के पीछे सामुदायिक भवन में 23 व्यक्ति ने भोजन ग्रहण किया है कुनकुन सिंह लेन के समीप 14 व्यक्ति ने आवासीय किया तथा 30 व्यक्ति ने भोजन ग्रहण किया है सैदपुर नहर में 40 व्यक्ति आवासीय 70 व्यक्ति ने भोजन ग्रहण किया है डीएवी स्कूल सगुना मोड़ दो व्यक्ति आवासित तथा 466 ने भोजन ग्रहण किया है।
*प्राइवेट हॉस्पिटल के साथ की बैठक , दिया निर्देश*
आयुष्मान भारत के 40 प्राइवेट अस्पताल के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की गई तथा उन्हें वर्तमान समय में ओपीडी एवं आकस्मिक सेवा बहाल रखने का निर्देश दिया गया उन्हें बताया गया है कि यदि प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना के पैसेंट आते हैं तो इसकी सूचना अविलंब जिला प्रशासन को देना सुनिश्चित करें ताकि उसके जांच की प्रक्रिया है तथा अन्य अग्रेतर कार्रवाई तत्क्षण रुप से की जा सके। आयुष्मान भारत के मरीजों का मुफ्त में इलाज करने का निर्देश दिया गया है साथ ही अस्पतालों में वेंटिलेटर एंबुलेंस की सेवा को आकस्मिकता से निपटने हेतु तैयार अवस्था में रखने का निर्देश दिया गया है ताकि आपातकालीन स्थिति में आवश्यकतानुसार उपयोग किया जा सके।

LEAVE A REPLY