जाप का अनोखा प्रदर्शनः कार्यकर्ताओं ने बैलगाड़ियों पर बाइक रखकर निकाला बैलगाड़ी टमटम मार्च

407
0
SHARE

कमरतोड़ महंगाई और पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ते दाम को लेकर जन अधिकार युवा परिषद ने अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान जन अधिकार युवा परिषद के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान शहर में बैलगाड़ी पर बाइक रखकर यात्रा निकाली। सैकड़ों बैलगाड़ी व टमटम के साथ मार्च पाटलिपुत्रा गोलम्बर से निकलकर पी एंड एम मॉल तक गया। इस दौरान जन अधिकार युवा परिषद के प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने बैलगाड़ी टमटम मार्च को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश में लगातार मंहगाई आसमान छू रही है. डीजल और पेट्रोल के दाम 100 रुपया पार कर चुका है. रसोई गैस के दामों ने घर का बजट ही बिगाड़ रखा है. मोदी सरकार के सात वर्षों में 45 रुपया से ज्यादा पेट्रोल महंगा हो गया हैं। डीजल और पेट्रोल के दाम लगभग बराबर हैं। डीजल के बढ़ते दामों के कारण खेती महंगी हो गई हैं।

     राजू दानवीर ने कहा कि देश में मोदी सरकार की तानाशाही खुलेआम चल रही है. केंद्र सरकार जनता के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है। कच्चे तेल के दाम  कम हो रही है और पेट्रोलियम पदार्थों के दाम बढ़ रहे हैं। जिससे महगाई बढ़ रही हैं।  इस कारण गरीबों को जीवन यापन में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा हैं। 

सरकार जब तक पेट्रोलियम पदार्थों से टैक्स को खत्म नहीं करेगी, तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा। राजू दानवीर ने कहा कि सरकार पेट्रोलियम पदार्थों को जी एस टी के दायरे में लाकर इसके बढ़ते हुए दामों को नियंत्रित करें।

  जाप के प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा ने  बैलगाड़ी टमटम मार्च को सम्बोधित करते हुए कहा कि महंगाई के खिलाफ हमारी पार्टी का आंदोलन जारी हैं।उन्होंने  कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण देश के कई हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें बीते दिन 100 रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर चुका हैं । 

 बैलगाड़ी टमटम मार्च को सम्बोधित करते हुए  प्रदेश महासचिव आनन्द सिंह ने कहा कि अच्छे दिन का देखो खेल महंगा डीजल महंगा पेट्रोल। केंद्र की भाजपा सरकार ने रसोई गैस के मूल्य में बेतहाशा बढ़ोतरी कर दी, जिससे लोगों के रसोई का बजट बिगड़ गया है।  जन विरोधी केंद्र सरकार ने पूंजीपतियों के साथ मिलकर आम जनता को कंगाल बना दिया हैं।  बैलगाड़ी टमटम मार्च में  पूर्व विधायक भाई दिनेश,राष्ट्रीय महासचिव प्रेमचन्द सिंह, राष्ट्रीय महासचिव  राजेश रंजन पप्पू,सचितानन्द यादव, रतिकांत नीरज उर्फ ललन सिंह, अमित जायसवाल, अमरनाथ कुमार, भानु यादव, नीरज कमांडों , सन्तोष यादव, उत्कर्ष कुमार, वरुण कुमार, संजय सिंह, रमेश, मोनू, रेखा वर्मा, सहित सैकड़ों कार्यकर्ता सैकड़ों बैलगाड़ी और टमटम के साथ शामिल थे।

REPORT : AKSHAY DEEP

GROUND REPORT

LEAVE A REPLY