अब बिहार की राजधानी पटना में भूतों को भी लगेगा कोरोना का टिका

512
0
SHARE
OFFICIAL COVID WEBSITE

बिहार सरकार की अनेकों नाकामयाबियों में से एक कोरोना के टिके में हो रही धांधली भी है। कोविड के आधिकारिक वेबसाइट पर इसकी पुस्टि की जा सकती है। वेबसाइट में कोरोना मरीजों के साथ-साथ कोविड के टिके से जुड़े हर एक जानकारी उपलब्ध कराई गयी है। इस वेबसाइट के माध्यम से आम जनता अपना ऑनलाइन पंजीकरण कर टीके लगवा सकते है। देश के हर राज्य की जानकारी इस वेबसाइट पर दी गयी है।

हाल ही में बिहार सरकार द्वारा यह दावा किया गया था कि बिहार में देश के बाकी राज्यों के मुकाबले सबसे अधिक टिके लगे है। परन्तु पिछले कुछ दिनों से राज्य में वैक्सीन की कमी के कारण यह प्रक्रिया धीमी हो गयी है। अब दोबारा से वेबसाइट एक्टिव हो चुकी है और कुछ टिके केन्द्रो पर इसकी उपलब्धि दिख सकती है। चौंकाने वाली बात यह है कि बिहार की राजधानी पटना में अब इंसानों के साथ साथ भूतों को भी टिका लगेगा। यह हम नहीं राज्य सरकार द्वारा वेबसाइट पर दी गयी डाटा कह रही है। दरअसर वेबसाइट ( https://www.mygov.in/covid-19/ ) पर कुछ केंद्रों पर टिके की उपलब्धि शून्य दिखाई जा रही है परन्तु फिर भी आज यानि की 28 जून को केंद्र को खुला रखा गया है।

उक्त तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते है राजधानी पटना के कुछ टिके केंद में वैक्सीन की क्या स्तिथि है। कोरोना काल में हुए राज्य सरकार की यह पहली गलती नहीं है, इससे पहले सरकार से संक्रमण के कारण हुई मौतों के आंकड़ें में भी बड़ी चूक हुई थी,जहां चूक सुधारने के बाद एक ही दिन में आंकड़ा करीब चार हजार तक बढ़ा दिया गया था। इसके बाद विपक्ष काफी हमलावर हो गए थे, और तो और पटना उच्च न्यायलय द्वारा राज्य में कोरोना संक्रमण के कारण हुई मौत की स्पष्ट जांच की भी मांग की गयी थी।

शुरू में कोविड वैक्सीन लेने की प्रक्रिया ऑनलाइन थी, हालांकि सरकार अब ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन। ऐसे में यदि सरकार से इतनी बड़ी चूक होती है तो इससे आम लोगों को काफी तकलीफ होगा। यदि कोई व्यक्ति टिके केंद्र से बिना टिका लिए वापस लौटेगा तो भविष्य में वह टिका लेने में कतराएगा। सरकार को जल्द से जल्द उचित जानकारी लोगों तक पहुचानी चाहिए।

REPORT : AKSHAY DEEP

LEAVE A REPLY