पटना के महावीर मंदिर में कहा से आया ईस्ट इंडिया कंपनी का राम और सीता का सिक्का

1334
0
SHARE

पटना के महावीर मंदिर में अचानक दानपात्र से 30 ईस्ट इंडिया कंपनी का सिक्का निकला है जिसमें राम लक्ष्मण और सीता की तस्वीर छपी हुई है लेकिन सबसे बड़ी हैरत वाली बात यह है कि यह सिक्का महावीर मंदिर के दानपात्र में किसने डाला यह भी किसी को नहीं पता, और इस सिक्का को लेकर चर्चा भी खूब हो रही है वही इस सिक्के पर 1818 भी छपा हुआ है यानी इसे 1818 में छपवाया गया था.

वहीं आचार्य किशोर कुणाल इस सिक्के के बारे में बताते हैं कि कि जब सिक्का उन्हें दानपात्र में मिला तो वह भी थोड़े हैरत में पड़ गए थे लेकिन हनुमान जी के मंदिर में यह सिक्का मिलना बहुत ही प्रसन्नता का विषय है, आचार्य किशोर कुणाल बताते हैं सिक्का मिलने के बाद हमें लगा कि क्या ईस्ट इंडिया कंपनी को यह सिक्का चलाने का अधिकार था या नहीं, लेकिन जांच में पता चला कि 1784 से 1835 तक मेट्रोपॉलिटियन टाउन कोलकाता, मुंबई और मद्रास से सिक्का चलाने का अधिकार दिया गया था ब्रिटिश गवर्मेन्ट द्वारा उसके बाद 1835 से पूरे देश मे.

वहीं अब इस सिक्के की जांच चल रही है किस धातु से सिक्का बना हुआ है और इस सिक्के को बैंक में नहीं दिया जाएगा इसे महावीर मंदिर में ही रखा जाएगा क्योंकि इस सिक्का में राम जी लक्ष्मण जी और सीता जी विराजमान है

LEAVE A REPLY